विधानसभा में बजट पेश करने के बाद एक तरफ वित्तमंत्री अजीत पवार मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ मीडिया के सामने बजट की उपलब्धियां गिना रहे थे तो दूसरी तरफ विधानसभा की सीढ़ियों पर बीजेपी विधायक सरकार का निषेध कर रहे थे.

मुंबई: कोरोना महामारी से सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से एक महाराष्ट्र राज्य का बजट पेश हुआ. साल 2022-23 के लिए बजट पेश करते हुए उपमुख्यमंत्री और वित्तमंत्री अजीत पवार ने कहा कि महाराष्ट्र एक खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला देश का पहला राज्य होगा. हालांकि जो बजट पेश किया गया वो तकरीबन 24 करोड़ घाटे का बताया जा रहा है. विधानसभा में बजट पेश करने के बाद एक तरफ वित्तमंत्री अजीत पवार मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ मीडिया के सामने बजट की उपलब्धियां गिना रहे थे तो दूसरी तरफ विधानसभा की सीढ़ियों पर बीजेपी विधायक सरकार का निषेध कर रहे थे. वित्तमंत्री ने बजट को सर्वसमावेशी बताते हुए उपलब्धियां गिनाई. जबकि विपक्ष ने बजट को जनविरोधी बताते हुए मुंबई हैदराबाद बुलेट ट्रेन की घोषणा पर सवाल उठाया.

विरोधी दल के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि जो लोग बुलेट ट्रेन का विरोध करते थे, कहते थे बुलेट ट्रेन की क्या जरूरत है? वही अब मुंबई हैदराबाद बुलेट ट्रेन की बात कर रहे हैं. केसीआर पिछले दिनों मिलने आए थे, मुझे लगता है उनसे मिलने आने जाने के लिए उन्हें खुश करने के लिए मुंबई हैदराबाद बुलेट ट्रेन की की घोषणा की गई है.

बता दें कि बजट में नियमित कर्ज चुकाने वाले किसानों को मिलने वाले 50 हजार अनुदान को बढ़ाकर 75 हजार करने के साथ कोंकण और परभणी कृषि विश्वविद्यालय को 50-50 करोड़ की निधि की घोषणा की गई. वहीं स्वास्थ्य सेवा पर 11 हजार करोड़ खर्च करने का प्रस्ताव भी रखा गया. जिसमें सभी जिलों में महिला अस्पताल के साथ 8 करोड़ खर्च कर 8 कैंसर मोबाइल वैन की भी घोषणा की गई. साथ ही अल्पसंख्यक विभाग को 676 करोड़ और गरीबों के लिए 5 लाख घर बनाने का लक्ष भी रखा गया है. गैस पर 13.5 फीसदी वैट कम कर महिलाओं के घरेलू बजट पर सहूलियत देनें की घोषणा भी की गई है.

हालांकि बीजेपी की महिला विधायक इसे सिर्फ बीएमसी चुनाव के लिए सगुफा बताया. बीजेपी की महिला विधायक स्वेता महाले ने कहा कि पाइप गैस सिर्फ मुंबई और पुणे में है, ग्रामीण इलाकों में ये सुविधा कहां है? सिर्फ बीएमसी चुनाव देख कर घोषणा की गई है.