Mirzapur News (मिर्जापुर) : विश्व प्रसिद्ध विंध्याचल धाम में एक शर्मशार करने वाला मामला सामने आया है. दर्शन करने आए एक परिवार के साथ गेस्ट हाउस के कमरे में पंडा ने पूजा कराने की आड़ में महिला के साथ छेड़खानी की. महिला के परिजनों ने थाने पहुंचकर पंडा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

पुलिस पहले लीपा पोती करने में जुटी रही. लेकिन, 3 से 4 घंटे बैठने के बाद पुलिस ने पंडा के खिलाफ केस दर्ज कर लिया.

दरअसल, विंध्याचल धाम अलीगढ़ से एक परिवार के चार लोग बनारस से मां विंध्यवासिनी के दर्शन करने मंगलवार को आए हुए थे. पंडा के गेस्ट हाउस में रहकर मां विंध्यवासिनी के साथ तीन अन्य मंदिरों का भी दर्शन किया. दर्शन के बाद वापस आने पर पंडा राज मिश्रा ने कहा कि पूजा करा दें. दर्शनार्थी ने कहा कि करा दीजिए.

पंडा बोला कि बाहर शोर है कमरे में करा देता हूं. पहले पंडा ने पीड़ित की पत्नी को कमरे में ले जाकर पूजा कराई. इसके बाद बहू को ले जाकर कमरे में पूजा कराने के नाम पर छेड़खानी करने लगा. वह भी दरवाजे की कुंडी बंद करके. बहू के चिल्लाने पर ससुर ने गेट खुलवाया तो बहू ने कहा कि पंडा छेड़खानी कर रहा है. इस दौरान पंडा ने कहा कि गलती हो गई.

माफी चाहता हूं. इसी से नाराज होकर परिजनों ने विंध्याचल थाने में न्याय के लिए तहरीर देकर पंडा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. कहा कि एक रसूखदार पंडा है. अपने आपको सपा का नेता और राज्याधिकारी पुरोहित बताता है. इसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए.

Mirzapur video: विंध्याचल धाम में दर्शन करने आई महिला से छेड़खानी, दर्शन कराने वाले पंडा पर लगा आरोप
Mirzapur video: विंध्याचल धाम में दर्शन करने आई महिला से छेड़खानी, दर्शन कराने वाले पंडा पर लगा आरोप

Raj Mishra स्वघोषित तीर्थ पुरोहित है

दरअसल राज मिश्र Raj Mishra स्वघोषित तीर्थ पुरोहित और प्रशासन से संरक्षण प्राप्त पण्डा हैं. राज मिश्र पर दर्शन के लिए आये अलीगढ़ के एक परिवार ने पूजा कराने के नाम पर छेड़खानी का गम्भीर आरोप लगाया है. राज मिश्र समाजवादी पार्टी के नेता भी हैं और अखिलेश यादव के करीबी भी माने जाते हैं.

Raj Mishra से पहले की पहचान थी

मां विंध्यवासिनी के दर्शन के लिए आए एक भक्त का कहना है कि वो अपने परिवार के साथ मां विंध्यवासिनी का दर्शन करने के लिए पहुंचा था. यहां के जो प्रतिष्ठित तीर्थ पुरोहित राज मिश्र (Raj Mishra) हैं वो पहले भी दो-तीन बार दर्शन करा चुके थे. इसलिए उन लोगों की तभी हमारी जान पहचान हो गई थी.  

दर्शनार्थी का कहना है कि इस बार मां विंध्यवासिनी के दर्शन के बाद वो अपने परिवार के साथ पंडा राज मिश्रा के गेस्ट हाउस में गया.

राज गेस्ट हाउस के कमरे में छेड़खानी

गेस्ट हाउस में राज मिश्रा ने कहा कि उनकी पत्नी की पूजा कराने के नाम पर अलग कमरे में ले गया. उसके बाद मेरी पुत्रवधू को कमरे में ले गया पूजा कराने के लिए और अंदर से दरवाजे को बंद कर लिया. जिसके बाद मेरी पुत्रवधू अंदर से शोर मचाने लगी. जब हमने जाकर दरवाजा खुलवाया तो मेरी पुत्रवधू जोर जोर से रोने लगी और उसने कहा कि पंडा ने मेरे साथ गलत हरकतें की. इसकी सूचना मैंने तुरंत 112 नंबर पर दी.

अखिलेश यादव का करीबी है राज मिश्र

पंडा राज मिश्र समाजवादी पार्टी के नेता भी हैं और अखिलेश यादव के बेहद करीबी भी हैं.
पंडा राज मिश्र समाजवादी पार्टी के नेता भी हैं और अखिलेश यादव के बेहद करीबी भी हैं.

पंडा राज मिश्र समाजवादी पार्टी के नेता भी हैं और अखिलेश यादव के बेहद करीबी भी हैं. अखिलेश यादव के पूरे परिवार को राज मिश्र ही दर्शन करवाते हैं. सबसे बड़ी बात ये है कि ज़िला प्रशासन और पुलिस दोनों से राज मिश्र को संरक्षण मिला हुआ है.

कोई भी VVIP विंध्याचल धाम आता है तो प्रशासन प्राथमिकता पर स्वघोषित राज्यअधिकारी पण्डा राज मिश्र के पास ही दर्शन-पूजन के लिए ले जाता है. पंडा राज मिश्र की धमक ऐसी है कि प्रशासन की नाक के नीचे उसने अपने नाम से राज गेस्ट हाउस का अवैध निर्माण करा रखा है.

By manmohan singh

News editor and Journalist

Enable Notifications OK No thanks