Munna Dubey(मुन्ना दुबे): कहते हैं कि इंसान के सितारे जब बुलन्दी पर हों तो वो मिट्टी भी छुन्दे तो वो सोना बन जाता है , लेकिन जब बात गीत संगीत की हो तो वहां किसी शॉर्ट कट से आप बुलंदियों पर नहीं पहुंच सकते , बल्कि यूँ कहें तो आपको गीत संगीत की दुनिया मे सर्वोच्च शिखर पर पहुंचने के लिए कड़ी मेहनत और कठिन परिश्रम के साथ साथ अपनी किस्मत का साथ मिलना भी आवश्यक हो जाता है

आजकल संगीतकार मुन्ना दुबे के सितारे भी इसी प्रकार की बुलन्दी पर हैं । वे लगातार एक के बाद एक फिल्मों में संगीत से भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री में अपनी धमक जमाए हुए हैं। 
मूल रूप से बिहार के बक्सर के रहने वाले मुन्ना दुबे का इस फ़िल्म इंडस्ट्री में सफर आसान नहीं रहा है । उन्होंने काफी संघर्ष के बाद आज इंडस्ट्री में इतनी सफलता हासिल किया है । आज की सफलता के पीछे उन्होंने एक लंबा रास्ता तय किया है । 
पहले उन्होंने गीतकार के रूप में अपना फिल्मी सफर शुरू किया था । कई लोगों के पास अपने गीतों को लेकर जाते थे उसके बाद लोगों के तरह तरह की बातों को सुनकर आज उन्होंने अपना मुक़ाम हासिल किया । फिर धीरे धीरे उन्होंने संगीत की दुनिया मे कदम रखा और आज वे भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री के सफलतम गीतकार-संगीतकार के रूप में गिने जा रहे हैं । करीब 800 से ज्यादा फ़िल्म करके उन्होंने बड़ी मुकाम हासिल की ! 
Munna Dubey
Munna Dubey

जल्द ही मुन्ना दुबे खुद के गाये और संगीत दिए हुए कई वीडियो एलबम में बतौर मॉडल परफॉर्मेंस करते हुए भी नज़र आएंगे । उनके पास आज की तारीख़ में चाची नंबर 1 , भईया राजा बजायेगा बाजा , वृषा , महापात्र , रिश्ता कर्ज का ,शादी by चांस , किडनैप, प्रीत का साया,दो दिल बँधे एक डोरी से जैसी बड़ी बड़ी फिल्में हैं । और वे अपनी इस सफ़लता को बेहतरीन तरीके से एन्जॉय कर रहे हैं

By संजय भूषण पटियाला

फ़िल्म पत्रकारिता और प्रमोशनल रिलेशन्स का क्षेत्र संजय भूषण पटियाला के लिए केवल एक करियर ही नहीं है, बल्कि यह एक पूरे जीवन का तरीका है जिसमें वह अपने दृढ विश्वासों और कर्मठता के साथ आगे बढ़ते हैं। वे केवल एक पत्रकार नहीं हैं, बल्कि एक सामाजिक सक्रिय व्यक्ति भी हैं जो समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का पूर्णता से निर्वाह करते हैं। संजय ने फ़िल्म उद्योग के साथियों की मदद करने और नौकरियों को प्रमोट करने के कई सामाजिक पहलुओं में भाग लिया है, जो उनके समर्पण और उनकी समाजसेवा के प्रति प्रतिबद्धता की प्रतिबिंबित करते हैं। उनका 10 वर्षों का अनुभव फ़िल्म उद्योग के विभिन्न पहलुओं की समझ और संवादनाओं की सामर्थ्य का प्रमाण है और यह उन्हें विभिन्न प्रमुख पत्रिकाओं, डिजिटल प्लेटफ़ॉर्मों और ब्लॉगों के लिए फ़िल्म समीक्षाएँ, समाचार लेख और विशेष रिपोर्ट्स लिखने में मदद करता है। उन्होंने अपने कैरियर के दौरान कई प्रमुख फ़िल्म प्रोजेक्ट्स के साथ काम किया है और उन्होंने उन्हें सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँचाया है। उनकी अद्वितीय अनुभवशीलता फ़िल्म उद्योग के विभिन्न पहलुओं की समझ और संवादनाओं की सामर्थ्य का प्रमाण है। संजय भूषण पटियाला का यह पूरा उत्कृष्टता और प्रतिबद्धता से भरपूर सफर उनके प्रोफेशनल और सामाजिक पहलुओं के संयमित संगम की वजह से है, जो उन्हें एक सशक्त और सक्रिय फ़िल्म पत्रकार के रूप में उच्च पहुंचा दिया है

10 कि 10 अंडररेटेड के कल शंकर इन ऑल टॉप 10 हॉरर के राशि चिन्हों के लिए उत्तम बैग
Enable Notifications OK No thanks