मुंबई: दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित होने पर फिल्म प्रचारक और सेलिब्रिटी मैनेजर संजय भूषण ने कहा है कि अपनी मेहनत और उन्नति के लिए उन्होंने किया।

उन्होंने कहा, “हर तक़दीर से पहले ख़ुदा बन्दे से ख़ुद पूछे कि बता तेरी रज़ा क्या है।” उन्होंने अपने संघर्ष को भूलना मुश्किल काम माना।

संजय भूषण ने उत्तर प्रदेश के प्रयागराज से निकलकर मुंबई में अपनी पहचान बनाई। उन्होंने भोजपुरी, हिंदी, अवधी, मैथिली, मराठी और पंजाबी फिल्मों के प्रचार-प्रसार में योगदान दिया।

उन्होंने अपनी कार्यक्षमता से कई अवॉर्ड प्राप्त किए हैं। हाल ही में उन्हें दादा साहेब फाल्के टेलीविजन अवॉर्ड मिला।

संजय भूषण ने फिल्म पत्रकारिता के क्षेत्र में भी अपनी पहचान बनाई है। उनकी मासिक फिल्मी पत्रिका ‘पाटलिपुत्रा न्यूज’ काफी प्रसिद्ध है।

वे अभी भी मुंबई के अलावा दुबई, मलेशिया, सिंगापुर, पटना, लखनऊ, दिल्ली, और बनारस में फिल्म प्रचार और सेलिब्रिटी मैनेजमेंट का काम कर रहे हैं।

अवॉर्ड के आयोजक अखिलेश सिंह को धन्यवाद देते हुए संजय भूषण ने यह स्वीकार किया कि मुश्किलों के बावजूद उन्होंने अपने सपनों को पूरा किया है।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks