Mumbai : बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान की हालिया रिलीज़ फिल्म “जवान” को दर्शकों और आलोचकों दोनों से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर भी शानदार प्रदर्शन किया है। फिल्म की सफलता के पीछे के कारणों पर चर्चा करते हुए, प्रसिद्ध फिल्म निर्देशक और शोधकर्ता समर के मुखर्जी ने कहा कि फिल्म ने जन भावनाओं का भरपूर इस्तेमाल किया है।

समर के मुखर्जी, जो Digifilming के संस्थापक हैं और मुंबई में IFTA प्रमाणन फिल्म निर्माण पाठ्यक्रम चलाते हैं, ने कहा कि फिल्म की सफलता के लिए कई कारक जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा, “सबसे पहले, फिल्म में बहुत सारा पैसा खर्च होंने के साथ दर्शकों की भावनाओं और संवेदनाओं को ध्यान रखा गया है”

समर मुखर्जी ने आगे कहा कि दर्शकों को एक्टर से ज्यादा ऐसे किरदार पसंद आते हैं जो उनकी निजी जिंदगी से जुड़ते हों। उन्होंने कहा, “जवान में शाहरुख खान का किरदार एक ऐसे आम आदमी का है जो अपने परिवार और देश की रक्षा के लिए लड़ रहा है। यह किरदार दर्शकों से कनेक्ट हो जाता है और उन्हें फिल्म से जोड़ता है।”

फिल्म के तकनीकी पक्ष की भी प्रशंसा की। उन्होंने कहा, “लाइटिंग, कलर्स, एक्शन हॉलीवुड फिल्मों की तरह बनाया गया है जो युवाओं को पसंद आया है।” उन्होंने कहा कि फिल्म में कलर ग्रेडिंग और High-end सॉफ्टवेयर का उपयोग किया गया है, जिसने फिल्म को एक अलग लुक दिया है।

समर मुखर्जी ने कहा कि “जवान” एक अच्छी तरह से बनाई गई फिल्म है जो दर्शकों को मनोरंजन और एक अच्छा संदेश दोनों प्रदान करती है। उन्होंने कहा कि फिल्म की सफलता से पता चलता है कि बॉलीवुड अभी भी दमदार है और नई फिल्में दर्शकों को पसंद आ रही हैं।

फिल्म की कहानी, मेकिंग, गाने, पोस्ट प्रोडक्शन में किया गया अनोखा काम

“जवान” की कहानी एक आम आदमी की है जो अपने परिवार और देश की रक्षा के लिए लड़ रहा है। फिल्म का निर्देशन एटली कुमार ने किया है, जिन्होंने इससे पहले “राउडी बॉयज”, “मर्सेनरी”, और “वेलकम टू मेरिनडु” जैसी सफल फिल्में बनाई हैं। फिल्म में शाहरुख खान, नयनतारा, दीपिका पादुकोण, विजय सेतुपति, और सन्या मल्होत्रा ​​मुख्य भूमिकाओं में हैं।

फिल्म की मेकिंग में बहुत सारे अनोखे काम किए गए हैं। उदाहरण के लिए, फिल्म की शूटिंग के लिए विशेष प्रकार के कैमरे और लेंस का इस्तेमाल किया गया था। फिल्म के एक्शन सीन्स को हॉलीवुड के स्तर पर फिल्माया गया है। फिल्म के गाने भी काफी लोकप्रिय हुए हैं।

पोस्ट प्रोडक्शन में भी फिल्म के साथ बहुत सारा काम किया गया है। फिल्म में कलर ग्रेडिंग और High-end सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया गया है, जिसने फिल्म को एक अलग लुक दिया है।

By ब्रजेश मेहर

बृजेश मेहर एक अनुभवी पत्रकार और P.R.O. हैं जिनका भोजपुरी सिनेमा पर विशेष ध्यान है। मनोरंजन उद्योग में कई वर्षों के करियर के साथ, ब्रजेश ने भोजपुरी फिल्मों की दुनिया में खुद को एक जानकार और सम्मानित आवाज के रूप में स्थापित किया है।एक पत्रकार के रूप में, ब्रजेश ने भोजपुरी सिनेमा से संबंधित विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला को कवर किया है, जिसमें अभिनेताओं और निर्देशकों के साक्षात्कार, बॉक्स ऑफिस के रुझानों का विश्लेषण और नवीनतम रिलीज़ की समीक्षा शामिल है। उन्होंने उद्योग में कई प्रमुख प्रकाशनों में योगदान दिया है और अपनी व्यावहारिक और सूचनात्मक रिपोर्टिंग के लिए एक प्रतिष्ठा बनाई है।

Enable Notifications OK No thanks