विंध्याचल थाना क्षेत्रविंध्याचल थाना क्षेत्र

Mirzapur News : उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में गाड़ी में मुसलमान चालक Modi-Yogi (मोदी और योगी) को गाली दे रहा था, जिसको लेकर छिड़ी बहस के बाद मुसलमान ड्राइवर ने पहले अधेड़ को उतार दिया। फिर सड़क पर उतारने के बाद अधेड़ को रौंदते हुए फरार हो गया था।

पुलिस ने हत्यारोपी चालक को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। घटना के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा काटा था, जिसके बाद पुलिस ने तत्काल ऐक्शन लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

उत्तर प्रदेश के मीरजापुर में पीएम और उप्र के सीएम की प्रशंसा करना दूल्हे के चाचा को महंगा पड़ गया। मृतक के भाई राकेशधर दूबे का आरोप है कि लौटते समय रास्ते में पीएम मोदी-सीएम योगी को लेकर बोलेरो (कार) चालक अमजद और राजेशधर में बहस हुई।

नाराज स्वजन ने सड़क मार्ग किया जाम

विंध्याचल थाना क्षेत्र के कोलाही गांव निवासी राजेशधर दूबे (50) अपने भतीजे की शादी में रविवार को मिर्जापुर गए हुए थे। मिर्जापुर से सोमवार की सुबह वापस आ रहे थे कि गाड़ी का चालक मोदी और योगी को गाली देने लगा। इस दौरान राजेश धर दूबे की चालक से बहस हो गई।

बहस होने के बाद मुसलमान चालक ने महोखर गांव के पास कुछ बारातियों के साथ राजेशधर दूबे को नीचे उतार दिया। जब चाचा ने नीचे उतारे जाने का विरोध किया तो चालक उनके बोलेरो से रौंद दिया, जहां सौ मीटर तक घसीट भी। घटना में राजेश धर की मौके पर ही मौत हो गई। गुस्साए परिजनों ने जमकर हंगामा किया था, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी चालक के विरूद्ध परिजनों की तहरीर पर संबधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करके जांच में जुटी थी

मुसलमान चालक को गिरफ्तार करके भेजा जेल

एसपी संतोष कुमार मिश्रा ने कहा कि परिजनों ने गाड़ी चालक के द्वारा गाड़ी चढ़ाकर हत्या करने के मामले परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया था। एक मामले में गाड़ी पर सवार लोगों से पूछताछ की थी। आस-पास के सीसीटीवी आदि से साक्ष्य संकलन किया गया। इस मामले में आरोपी मुसलमान चालक अमजद निवासी विजयपुर छानबे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आगे की जो वैधानिक कार्रवाई की जा रही है

बताया जाता है कि विंध्याचल थाना इलाके में रहने वाले राजेश दुबे अपनी भतीजी की शादी में शामिल होने के लिए अपने कुछ साथियों के साथ बोलेरो से मिर्जापुर जा रहे थे. सोमवार को सुबह छह बजे जब वह अपने गांव पहुंचे तब ये हादसा पेश आया. मृतक के बड़े भाई के मुताबिक बारात से सोमवार को लोटते वक्त बोलेरो में बेठे कुछ लोगों के साथ राजनीति पर बात होने लगी. इसी दौरान राजेश दुबे का विवाद बोलेरो चला रहे अमजद से हो गया. बाकी साथियों ने दोनों को समझा बुझाकर मामले को शांत कराया. इसके बाद कुछ लोग गाड़ी से उतर गए. इसके बाद अमजद ने राजेश को घर पर न उतारकर सड़क पर ही उतार दिया. 

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks