RBI News : होम-कार लोन लेने वालों के लिए अच्छी खबर, रेपो रेट पर RBI देगा ये तोहफा!RBI News : होम-कार लोन लेने वालों के लिए अच्छी खबर, रेपो रेट पर RBI देगा ये तोहफा!

RBI News : होम-कार लोन लेने वालों के लिए अच्छी खबर है। भारतीय रिज़र्व बैंक अपनी आगामी द्विमासिक नीति समीक्षा में लगातार तीसरी बार प्रमुख ब्याज दरों पर यथास्थिति बनाए रख सकता है। विशेषज्ञों ने यह भविष्यवाणी की है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व और यूरोपीय सेंट्रल बैंक द्वारा दरों में बढ़ोतरी के बावजूद घरेलू मुद्रास्फीति आरबीआई के सहनीय दायरे में बनी हुई है। आरबीआई ने पिछले साल मई से ब्याज दरें बढ़ानी शुरू की थीं, हालांकि इस साल फरवरी से रेपो रेट 6.5 फीसदी पर स्थिर है।

दो बार नहीं बदला

अप्रैल और जून की पिछली दो द्विमासिक नीति समीक्षाओं में यह अपरिवर्तित रहा। RBI गवर्नर की अध्यक्षता में छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (MPC) की बैठक 8-10 अगस्त को होगी। गवर्नर शक्तिकांत दास 10 अगस्त को नीतिगत फैसले की घोषणा करेंगे। बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य अर्थशास्त्री मदन सबनवीस ने कहा, ”हम उम्मीद करते हैं कि आरबीआई दरों पर यथास्थिति बनाए रखेगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि मुद्रास्फीति फिलहाल पांच फीसदी से नीचे चल रही है, लेकिन आने वाले महीनों में मुद्रास्फीति बढ़ने से कुछ ऊपर जाने का जोखिम रहेगा। कोटक महिंद्रा बैंक की मुख्य अर्थशास्त्री उपासना भारद्वाज ने कहा, चूंकि 1000 रुपये के नोट को वापस लेने की घोषणा के बाद नकदी की स्थिति अनुकूल हो गई है, हमें उम्मीद है कि आरबीआई मौजूदा रुख पर कायम रहेगा।

खुदरा महंगाई दर पर सबकी नजर है

उन्होंने कहा कि सभी की निगाहें इस बात पर होंगी कि घरेलू मुद्रास्फीति का रुख कैसा रहता है। आईसीआरए की मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नायर ने कहा कि सब्जियों की कीमतों में उछाल के कारण सीपीआई या खुदरा मुद्रास्फीति जुलाई 2023 में छह प्रतिशत से ऊपर जाने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि ऐसे में रेपो रेट पर यथास्थिति को लेकर एमपीसी की ओर से बेहद तीखी टिप्पणी देखने को मिल सकती है.

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks