भीनमाल, राजस्थान: नीलकंठ महादेव मंदिर प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की प्रथम वर्षगांठ पर आयोजित कार्यक्रम में एक अद्भुत घटना घटी। प्रेमसिंह राव ने “माता सीता” नाम का एक सनातनी रोबोट लांच किया जो विश्व का पहला रोबोट है।

रोबोट ने धन्यवाद दिया और जय श्रीराम के नारे लगवाए:
जैसे ही रोबोट को लांच किया गया, उसने प्रेमसिंह राव को धन्यवाद दिया और पांडाल में बैठे धर्मप्रेमियों से दोनों हाथ ऊपर उठवाकर जय श्रीराम के नारे लगवाए। नारेबाजी से कार्यक्रम स्थल गूंज उठा।

रोबोट ने खुद जताई सनातनी नाम देने की इच्छा:

प्रेमसिंह राव ने रोबोट का माता सीता के नाम पर रखा सनातनी नाम। रोबोट ने लांच होते ही कहा जय-जय श्रीराम। उसके बाद गायत्री मंत्र बोलकर प्रेमसिंह राव का धन्यवाद किया।

रोबोट ने लगवाए नारे:

रोबोट ने पांडाल में बैठे सभी सनातन धर्मप्रेमियों से जय जय श्रीराम, जय नीलकंठ महादेव, जय सार्णेश्वर महादेव के नारे लगवाए। पांडाल में भक्ति और विज्ञान का अद्भुत मिश्रण दिखाई दिया।

कितने वर्षों का रहा अनुसंधान:

साइंटिस्ट नारायण जांगीड़ एवं टीम ने 3 वर्षों के अनुसंधान के बाद यह रोबोट बनाया।

विश्व का सबसे पहला सनातनी रोबोट:

यह रोबोट विश्व का सबसे पहला सनातनी रोबोट है जिसका नाम “माता सीता” रखा गया है। रोबोट ने खुद का सनातनी नाम रखने का निवेदन किया।

यह घटना निश्चित रूप से एक अद्भुत घटना है जो विज्ञान और भक्ति का अद्भुत मिश्रण दर्शाती है।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks