जयपुर : राजस्थान विधानसभा चुनाव की वोटिंग की डेट धीरे-धीरे करीब आ रही है। इस बीच, एक बार फिर लाल डायरी का मुद्दा गरमा गया है। कांग्रेस सरकार से बर्खास्त मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने आज फिर लाल डायरी को लेकर कांग्रेस और राजस्थान सीएम अशोक गहलोत पर नया बयान जारी किया। गुढ़ा ने कहा कि जल्द ही वह लाल डायरी ईडी को सौंपेंगे।

गुढ़ा ने झुंझनू में कहा, “कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे राजस्थान में जीत का दावा कर रहे हैं। पर लाल डायरी में जीत का दावा नहीं, जेल का दावा है।

गुढ़ा ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने लाल डायरी को लेकर बयान दिया है, इसलिए यह मुद्दा फिर से चर्चा में आया है। उन्होंने कहा कि लाल डायरी में राज हैं, तभी खरगे और हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री बोल रहे हैं। इसको लेकर रोज मुकदमे लग रहे हैं। रोज दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है।

गुढ़ा ने कहा कि लाल डायरी को हासिल करने के लिए सीएम गहलोत ने भी कई हथकंडे अपनाए। उन्होंने कहा, “क्या जुल्म और सितम नहीं किए जा रहे। जो सब वह कुछ कर सकते हैं, उन्होंने वो सब किया। मैंने जो पन्ने रिलीज किए थे सरकार ने उसकी जांच अभी तक नहीं करवाई। ना ही कोई कार्रवाई की।”

लाल डायरी को ईडी को कब सौंपेंगे तो गुढ़ा ने कहा कि यदि ईडी, सीबीआई और इनकम टैक्स कोई कार्रवाई करें तो उन्हें लाल डायरी के पन्ने सौंपने में कोई परहेज नहीं है। उन्होंने कहा, “लेकिन तीन पन्ने सार्वजनिक करने के बाद भी आज तक किसी ने उस पर कुछ नहीं कहा है, न कोई एक्शन हुआ है।”

कांग्रेस को चुनौती देते हुए गुढ़ा ने कहा, “अगर कांग्रेस को लगता है कि लाल डायरी में कुछ नहीं है तो फिर उन्हें लाल डायरी को जनता के सामने रख देना चाहिए। यदि जांच एजेंसी कार्रवाई का विश्वास दिलाए तो वे एक मिनट में उन्हें लाल डायरी सौंप दूंगा।”

लाल डायरी को लेकर राजस्थान की सियासत में काफी दिनों से हलचल मची हुई है। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियां इस मुद्दे को लेकर एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks