फेसबुक के CEO मार्क जकरबर्ग ने हाल ही में फेसबुक और इंस्टाग्राम पर वेरिफाइड बैज के लिए पैसे लेने की घोषणा की है। इससे पहले उन्होंने एक नए प्लान का ऐलान किया है जिसमें उन्होंने प्रीमियम अधिकारियों के लिए 1 हजार डॉलर प्रति महीने की सदस्यता शुरू की है।

यह प्लान विशेष रूप से कंपनी और उच्च प्रोफाइल उपयोगकर्ताओं के लिए है, जिन्हें एक अलग-अलग बेस्ट-इन-क्लास टूल सेट प्रदान किया जाएगा।

फेसबुक के साथ-साथ इंस्टाग्राम पर भी अब वेरिफाइड बैज के लिए अतिरिक्त शुल्क लेने का विचार है। इससे वेरिफाइड बैज पाने के लिए उपयोगकर्ताओं को अतिरिक्त शुल्क देना होगा। इससे सामान्य उपयोगकर्ताओं को कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा लेकिन कंपनियों के लिए यह एक अतिरिक्त व्यय का साधन होगा

फेसबुक अपने यूजर्स को ब्लू टिक देने के लिए पैसे लेने जा रहा है। फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने बताया है कि फेसबुक अब वे यूजर्स भी ब्लू टिक पाने के लिए पैसे देंगे, जो चाहते हैं कि उनके अकाउंट Verified हो। ब्लू टिक एक सिर्फिकेशन होता है जो दर्शाता है कि एक खाते का मालिक असली है और उनके द्वारा पोस्ट किए गए कंटेंट असली है। इस नई सुविधा के साथ, फेसबुक उन यूजर्स को भी मौका देगा जिन्होंने पहले से ही ब्लू टिक प्राप्त किया है।

ब्लू टिक वास्तव में फेसबुक द्वारा सत्यापित खाते का सूचक होता है। यह उन व्यक्तियों के लिए महत्वपूर्ण होता है जो अपनी पहचान को साबित करना चाहते हैं। ब्लू टिक वाले खातों को फेसबुक अलग से ध्यान से निरीक्षित करता है ताकि यह सुनिश्चित कर सकें कि उनका खाता असली है और उनके द्वारा पोस्ट किए गए कंटेंट भी असली है।

फेसबुक और इंस्टाग्राम के उपयोगकर्ताओं के लिए अच्छी खबर है कि अब उनके अकाउंट को वेरिफाई करने के लिए फेसबुक की तरफ से एक नया प्लान लांच किया गया है। इस प्लान के अंतर्गत उपयोगकर्ता अपने अकाउंट को वेरिफाई कराने के लिए पैसे दे सकते हैं। इस नई इनिशिएटिव के बारे में जानने के लिए इस लेख में हम विस्तार से जानेंगे कि इस प्लान के तहत अकाउंट को कैसे वेरिफाई किया जाएगा और क्या फायदे होंगे।

फेसबुक ने हाल ही में एक ऐसा प्लान लॉन्च किया है, जिसमें उपयोगकर्ताओं को अपने अकाउंट को वेरिफाई कराने के लिए पैसे देने की सुविधा दी जा रही है। इसके अंतर्गत उपयोगकर्ता सीधे फेसबुक से अपने अकाउंट को वेरिफाई करवा सकते हैं और फिर ब्लू टिक जैसा वेरिफाईड बैज प्राप्त कर सकते हैं।

फेसबुक ने हाल ही में घोषणा की है कि यह फेसबुक और इंस्टाग्राम पर वेरिफाइड बैज के लिए पैसे ले सकता है। इसका मतलब यह है कि जो लोग फेसबुक और इंस्टाग्राम पर वेरिफाइड अकाउंट चाहते हैं वे अब इसके लिए पैसे देने के लिए तैयार होने के लिए हो सकते हैं। इस नई घोषणा से संबंधित कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें हैं जो लोगों को जानना चाहिए।

जैसा कि हम सभी जानते हैं, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर वेरिफाइड अकाउंट होना बहुत महत्वपूर्ण होता है। यह एक लोगों को विश्वास का एक संकेत देता है कि इन अकाउंट्स को नियंत्रित करने वाले वास्तविक लोग हैं और उनके पास अधिक जानकारी होती है। वेरिफाइड अकाउंट्स को वास्तविक और विश्वसनीय माना जाता है।

फेसबुक ने हाल ही में एक बड़ी घोषणा की है कि यह अब उन यूजर्स को ब्लू टिक यानि प्रमाणित बैज दे सकता है जो इसके लिए पैसे देने को तैयार होते हैं। इसका मतलब है कि जो लोग फेसबुक पर वेरिफाइड अकाउंट चाहते हैं, वे अब फेसबुक को पैसे देकर ब्लू टिक प्राप्त कर सकते हैं। यह फेसबुक के लिए एक नया रास्ता है जो अपने उपयोगकर्ताओं को एक नई सुविधा और अधिक राजनीतिक उद्देश्यों के साथ जोड़ने का प्रयास कर रहा है।

फेसबुक ने बताया है कि वे अब यूजर्स को ब्लू टिक प्रदान करने के लिए एक नया प्रोसेस लाएंगे। इस प्रक्रिया में, जो भी उपयोगकर्ता वेरिफाइड अकाउंट के लिए आवेदन करेगा, उसको सबसे पहले पैसे देने होंगे। उन्हें उनके अकाउंट को वेरिफाइ करने के लिए एक आवेदन पत्र भरना होगा और उन्हें अपने अकाउंट के साथ कुछ डॉक्यूमेंट्स भी अपलोड करने होंगे। फिर फेसबुक की टीम उनकी आवेदन प्रोसेस करेगी

फेसबुक, इंस्टाग्राम और वॉट्सऐप जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की पैरेंट कंपनी मेटा (Meta) ने प्रीमियम वेरिफिकेशन सर्विस का ऐलान किया है. अब फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी वेरिफाइड अकाउंट यानी ब्लू टिक के लिए पैसे चुकाने होंगे. वेब के लिए इसकी कीमत 11.99 डॉलर और आईओएस के लिए 14.99 डॉलर तय की गई है.

इस हफ्ते यह सर्विस पहली बार ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में शुरू की जाएगी. अन्य देशों में जल्द ही यह सर्विस शुरू कर दी जाएगी. कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने इस बात की घोषणा की है. जुकरबर्ग ने कहा कि इस हफ्ते से हम मेटा वेरिफाइड शुरू करने जा रहे हैं. ये एक सब्सक्रिप्शन सर्विस है जिसके जरिए आप अपना अकाउंट वेरिफाइड करवा पाएंगे. यूजर्स अपने सरकारी आईडी के जरिए अकाउंट वेरिफाई करा सकेंगे.

अभी वेरिफिकेशन के जरिए मिलता है ब्लू बैज
क्रिएटर्स, सार्वजनिक शख्सियतों, मशहूर हस्तियों, कंपनियों और ब्रांड्स के पेज को फेसबुक की तरफ से वेरिफिकेशन के बाद ब्लू बैज दिया जाता है.

Twitter पहले ही कर चुका है ऐलान, भारत में खर्च करने होंगे 900 रुपये
इससे पहले ट्विटर ने पेड सब्सक्रिप्शन सर्विस Twitter blue को पेश किया था. भारत में ट्विटर के यूजर्स को अपने अकाउंट्स में ‘ब्लू टिक’ निशान के लिए मोबाइल फोन के मासिक प्लान के तहत हर माह 900 रुपये खर्च करने पड़ेंगे. कंपनी ने वेब के लिए ट्विटर ब्लू का दाम 650 रुपये और मोबाइल ऐप यूजर्स के लिए 900 रुपये रखा है. ट्विटर ने कहा कि मंजूरी मिलने के बाद सत्यापित फोन नंबर के साथ ब्लू के ग्राहकों को ब्लू टिक दिया जाएगा. प्लेटफॉर्म ने वेब के यूजर्स के लिए सालाना प्लान पेश किया है. इसके लिए उपभोक्ताओं को 6,800 रुपये देने होंगे.

By Sunil Kumar Verma

Sunil Kumar Verma - पत्रकार और समाचार संपादक

Enable Notifications OK No thanks