दिल्ली, 18 अगस्त 2023: साइबर अपराधियों के बढ़ते तांदव ने साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों को चिंतित कर दिया है। नवीनतम रिपोर्ट्स के अनुसार, एआई (Artificial Intelligence) टूल्स का दुरुपयोग करके अपराधी अब फर्जी आवाज और वीडियो कॉल से लोगों को ठग रहे हैं। इस बदलते तंत्र में साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ श्री अंकुर चंद्रकांत ने लोगों को सतर्क रहने की चेतावनी दी है।

विशेषज्ञ अंकुर चंद्रकांत ने बताया कि एआई टूल्स का दुरुपयोग करके अपराधी विभिन्न धोखाधड़ी तकनीकों का उपयोग कर आवाज और वीडियो कॉल के माध्यम से लोगों को ठग रहे हैं। वे लोगों से सतर्क रहने की अपील करते हैं और उन्हें अपनी पर्सनल जानकारी को साझा न करने की सलाह देते हैं।

विशेषज्ञ अंकुर चंद्रकांत का कहना है, “आपकी साइबर सुरक्षा आपके हाथ में है। अपनी निजी जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए आपको सतर्क रहना होगा। अगर किसी आवाज या वीडियो कॉल में आपको संदेह हो, तो तुरंत उसकी पुष्टि करने के लिए आपके पास अन्य माध्यम होने चाहिए, जैसे कि आपके संबंधित व्यक्ति से सीधे संपर्क करना।”

साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ अंकुर चंद्रकांत ने यह भी बताया कि एआई टूल्स का उपयोग कर फर्जी आवाज और वीडियो कॉल से लोगों को ठगने के पीछे बड़ा मोटा खेल चल रहा है और इससे साइबर अपराधों का खतरा भी बढ़ जाता है। इसके साथ ही वह लोगों से आपत्तिजनक लिंक्स पर क्लिक न करने और अनजाने व्यक्तियों से सतर्क रहने की सलाह भी देते हैं।

इस तरह की साइबर धांधली से बचाव के लिए विशेषज्ञ चंद्रकांत ने लोगों को आवश्यक सावधानियों का पालन करने की सलाह दी है और उन्हें सतर्क रहने की आवश्यकता को समझाया है।

यह चेतावनी है कि साइबर अपराधों के खिलाफ जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ अंकुर चंद्रकांत ने अपने 13 वर्षों के अनुभव के साथ 2800 लोगों को साइबर सुरक्षा और साइबर क्राइम जागरूकता में प्रशिक्षित किया है।

इस तरह की साइबर धांधली से बचाव के लिए विशेषज्ञ चंद्रकांत ने लोगों को आवश्यक सावधानियों का पालन करने की सलाह दी है और उन्हें सतर्क रहने की आवश्यकता को समझाया है.

यह चेतावनी है कि साइबर अपराधों के खिलाफ जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ अंकुर चंद्रकांत ने अपने 13 वर्षों के अनुभव के साथ 2800 लोगों को साइबर सुरक्षा और साइबर क्राइम जागरूकता में प्रशिक्षित किया है.

साइबर अपराधों से बचने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स

  • अनजान नंबरों से आने वाली कॉल्स का जवाब न दें.
  • फर्जी ईमेल को तुरंत डिलीट कर दें.
  • अपने पासवर्ड को मजबूत रखें और उन्हें किसी के साथ शेयर न करें.
  • अपने डिवाइस को समय-समय पर अपडेट रखें.
  • साइबर सुरक्षा के बारे में जागरूक रहें और अपने परिवार के सदस्यों को भी जागरूक करें.

अगर आप साइबर अपराध का शिकार हो जाते हैं, तो तुरंत साइबर पुलिस से संपर्क करें.

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks