बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना ने कामाख्या मंदिर में यज्ञ और पूजा कीबॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना ने कामाख्या मंदिर में यज्ञ और पूजा की

Guwahati , 28 जून . अंबुबासी के बाद Bollywood अभिनेत्री कंगना रनौत ने Wednesday को Guwahati के नीलाचल पहाड़ी पर स्थित विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ कामाख्या मंदिर के दर्शन किये. पुरोहितों के मंत्रों के बीच उन्होंने पूजा-अर्चना और यज्ञ करके मां का आशीष लिया.

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना ने कामाख्या मंदिर में यज्ञ और पूजा की

Bollywood एक्ट्रेस ‘इमरजेंसी’ हिरोइन कंगना रनौत बीती रात Guwahati पहुंचीं. मंदिर परिसर में स्थित State government के गेस्ट हाउस में रात बितायी. मां कामाख्या की पूजा करने पहुंची एक्ट्रेस के आने की खबर जंगल में आग की तरह फैल गई, जिसके चलते मंदिर परिसर में लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी. Media के साथ ही भीड़ को नियंत्रित करने में Police को काफी मशक्कत करनी पड़ी. इस बीच कंगना ने कुछ पल के लिए पत्रकारों से भी रूबरू हुईं. कंगना ने मुस्कुराते हुए सभी सवालों के संक्षिप्त जवाब दिए.

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना ने कामाख्या मंदिर में यज्ञ और पूजा की
बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना ने कामाख्या मंदिर में यज्ञ और पूजा की

पत्रकारों के एक सवाल का जवाब देते हुए कंगना ने कहा कि हर साल उन्हें अंबुबासी के दौरान आने की अदम्य इच्छा होती है, लेकिन यह समय पर नहीं होता. हालांकि, वर्ष 2021 में अंबुबासी के समय पहुंचकर मां की पूजा की. उन्होंने कहा कि कामाख्या मंदिर दुनिया का एकमात्र मंदिर है, जहां योनिपीठ की पूजा की जाती है. उन्होंने कहा, यह एक पवित्र स्थान है, एक शक्तिपीठ है, जहां ऊर्जा का एक अजीब प्रवाह है.

अपनी नई फिल्म ‘इमरजेंसी’ के बारे में एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यह फिल्म इसी साल 24 नवंबर को रिलीज होगी. उन्होंने इस फिल्म को सभी से देखने का आह्वान किया. अभिनेत्री ने कहा, इस फिल्म से उन्हें काफी उम्मीदें हैं.

इस बीच उन्होंने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया और लिखा, ‘आज कामाख्या माई के मंदिर में दर्शन किया.. इस मंदिर में जगतजननी मैया की योनि रूप में पूजा होती है… ये मां की शक्ति का विराट रूप है जहां ‘माई को मांस और बलि का भोग लगता है, ये पवित्र स्थान एक शक्तिपीठ है… जहां शक्ति का विचित्र संचार है… कभी Guwahati आना हुआ तो दर्शन जरूर करें…जय माई की’

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks