नीलकमल सिंहनीलकमल सिंह

भोजपुरी लोक गायक नीलकमल सिंह का नया काँवड़ गीत “भोला बउईले” आज रिलीज हो गया है। इस गाने को टी-सीरीज़ हमार भोजपुरी के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल से रिलीज हुआ है और यह तेजी से वायरल भी होने लगा है। नीलकमल सिंह का यह गाना भक्ति और मनोरंजन वाला है। इस गाने को अब तक लाखों व्यूज मिल चुके हैं।

गाने की मेकिंग बेहद शानदार और नाटकीय है, जो इस गाने को और भी खूबसूरत बना देता है। गाना “भोला बउईले” में प्रकृति की हरियाली से सावन के होने का एहसास महसूस किया जा सकता है।

“भोला बउईले” भोले बाबा के भक्तों के साथ भोजपुरी संगीत प्रेमियों को भी खूब पसंद आ रहा है। इस गाने का थीम भोले बाबा की शादी को लेकर है, जहां उनकी शादी के लिए बारात निकल रही होती है। दरवाजे पर माँ गौरी अपनी सहेलियों के साथ उनका इंतजार कर रही होती हैं, लेकिन उन्हें पता चलता है कि महादेव भांग धतूरा के नशे में बौरा गए हैं। इसी कथा पर आधारित गाने को नीलकमल सिंह ने अपने गाने के माध्यम से मनोरंजक प्रस्तुति दी है।

इसको लेकर उन्होंने कहा कि गाना “भोला बउईले” बेहद मजेदार और भक्ति से भरपूर है। इस गाने को खूब प्यार और आशीर्वाद दें। इससे हमें प्रेरणा मिलती है। हम टीसीरीज के शुक्रगुजार हैं कि वे शानदार कॉन्सेप्ट के साथ गाने ला रहे हैं। यह भोजपुरी के लिए सराहनीय पहल है।

आपको बता दें कि “भोला बउईले” को नीलकमल सिंह ने गाया है। इसके म्यूजिक वीडियो में वे रानी शालिनी के साथ नजर आए हैं। गीतकार आशुतोष तिवारी हैं। संगीतकार प्रियांशु सिंह हैं। निर्देशक बिभांशु तिवारी हैं। रिकार्डिस्ट ब्रिजेश बागी और कोरियोग्राफर असलम खान हैं। डीओपी वजीर कला और पीआरओ रंजन सिन्हा हैं।

By रंजन सिन्हा

रंजन सिन्हा : भोजपुरी फिल्म पत्रकार और जनसंपर्क अधिकारी (पीआरओ) हैं, जिनके पास मनोरंजन उद्योग में व्यापक अनुभव है। उन्हें भोजपुरी फिल्म उद्योग की गहरी समझ है और वे अपनी अंतर्दृष्टिपूर्ण रिपोर्टिंग और भोजपुरी फिल्मों की निष्पक्ष समीक्षा के लिए जाने जाते हैं।रंजन सिन्हा ने एक प्रमुख समाचार पत्र के लिए एक रिपोर्टर के रूप में पत्रकारिता में अपना करियर शुरू किया और जल्द ही भोजपुरी फिल्म उद्योग को कवर करने के लिए चले गए। उसके बाद से उन्होंने खुद को क्षेत्र के सबसे भरोसेमंद और सम्मानित पत्रकारों में से एक के रूप में स्थापित किया है, उनके काम को प्रमुख मीडिया आउटलेट्स में नियमित रूप से प्रदर्शित किया जाता है।पीआरओ के रूप में, रंजन सिन्हा ने भोजपुरी फिल्म उद्योग में कुछ सबसे बड़े नामों के साथ काम किया है, जिससे उन्हें अपनी फिल्मों को बढ़ावा देने और व्यापक दर्शकों तक पहुंचने में मदद मिली है। मार्केटिंग और प्रमोशन पर उनकी पैनी नजर है और ये अपनी इनोवेटिव और इफेक्टिव स्ट्रैटेजी के लिए जाने जाते हैं।

Enable Notifications OK No thanks