महमूद अलीमहमूद अली

भारतीय सिनेमा और एलबम इंडस्ट्री में राह रहकर प्रयोग होते रहता है, कई बार यह प्रयोग सफल होता है तो कई बार असफल, वहीं कई बार तो इस प्रयोगशाला में लोग कमाल ही कर जाते हैं. ऐसा ही एक प्रयोग आजकल इंडस्ट्री में चर्चा का विषय बना हुआ है. दरअसल पेन एंड कैमरा प्रोडक्शन ने एकसाथ बॉलीवुड के तमाम बड़े प्ले बैक सिंगर्स के साथ अनुबंध करके बल्क में गाने रिकॉर्ड किया है. विगत दिनों में पेन ऐंड कैमरा के साथ म्यूजिक कैफे रिकॉर्ड लेबल ने अरिजीत सिंह, जुबिन नौटियाल, सोनू निगम, दलेर मेहंदी, शान, पलक मुछाल, श्रेया घोषाल, उषा उत्थप, पंकज उदास, मोहम्मद इरफान आदि जैसे स्टार गायकों के साथ 50 से अधिक गाने रिकॉर्ड किए.

पेन एन कैमरा हॉलीवुड की एलएलसी, यूएसए म्यूजिक कैफे की पैरेंटल कम्पनी है जो सितंबर और अक्टूबर में अमेरिका, कनाडा, मैक्सिको, यूके और यूरोप में इन रिकॉर्ड किये हुए गानों के वीडियो शूट करने की योजना बना रही है.

म्यूजिक कैफे इन हिंदी गानों के साथ ही पंजाबी, मराठी और भोजपुरी गाने भी लेकर आ रहा है. कंपनी संगीत जगत से बड़े नामों के साथ साथ कुछ नई प्रतिभाओं को भी अनुबंधित कर रही है. पेन एन कैमरा हॉलीवुड एलएलसी ने कुछ बड़े फ़िल्म प्रोजेक्ट्स और डिजिटल वेबसिरिज, वेबफिल्मस के लिए बड़े व अंतरराष्ट्रीय कम्पनियों के साथ भी कॉन्ट्रैक्ट कर रही है.

पेन एन कैमरा इंटरनेशनल के संस्थापक महमूद अली एक लेखक, निर्माता और वितरक के रूप में फिल्म उद्योग में 30 वर्षों का अनुभव रखते हैं. उन्होंने अपने अनुभव के आधार पर इंडस्ट्री के तमाम उतार व चढ़ाव को नज़दीक से महसूस किया है. अपने अब तक के अनुभवों को समेटकर वो कुछ नया करने जा रहे हैं और अब म्यूजिक लेबल म्यूजिक कैफे लेकर आ रहे हैं. जहां गानों के अलावा, फिल्में व वेबसिरिज भी बनाई जाएंगी.

म्यूजिक कैफे के बारे में

म्यूजिक कैफे एक नया संगीत लेबल है जो हिंदी, पंजाबी, मराठी और भोजपुरी भाषाओं में गाने रिकॉर्ड और रिलीज करेगा. कंपनी संगीत जगत से बड़े नामों के साथ साथ कुछ नई प्रतिभाओं को भी अनुबंधित कर रही है. म्यूजिक कैफे के पास एक मजबूत वितरण नेटवर्क है और कंपनी के गाने सभी प्रमुख डिजिटल प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होंगे.

म्यूजिक कैफे की योजनाएं

म्यूजिक कैफे की योजनाएं काफी महत्वाकांक्षी हैं. कंपनी हर साल 100 से अधिक गाने रिकॉर्ड और रिलीज करने की योजना बना रही है. म्यूजिक कैफे के गाने बॉलीवुड फिल्मों, वेबसिरिज और अन्य मनोरंजन कार्यक्रमों में भी शामिल किए जाएंगे. कंपनी की योजना है कि म्यूजिक कैफे एक वैश्विक ब्रांड बन जाए और कंपनी के गाने दुनिया भर के लोगों को पसंद आएं.

म्यूजिक कैफे के लिए अवसर

भारतीय संगीत उद्योग में बहुत संभावनाएं हैं. देश में एक विशाल युवा आबादी है जो संगीत से प्यार करती है. म्यूजिक कैफे के पास इस विशाल बाजार का लाभ उठाने का अवसर है. कंपनी के पास एक मजबूत वितरण नेटवर्क है और कंपनी के पास एक प्रतिभाशाली टीम है. म्यूजिक कैफे के लिए सफल होने की सभी संभावनाएं हैं.

By संजय भूषण पटियाला

फ़िल्म पत्रकारिता और प्रमोशनल रिलेशन्स का क्षेत्र संजय भूषण पटियाला के लिए केवल एक करियर ही नहीं है, बल्कि यह एक पूरे जीवन का तरीका है जिसमें वह अपने दृढ विश्वासों और कर्मठता के साथ आगे बढ़ते हैं। वे केवल एक पत्रकार नहीं हैं, बल्कि एक सामाजिक सक्रिय व्यक्ति भी हैं जो समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का पूर्णता से निर्वाह करते हैं।संजय ने फ़िल्म उद्योग के साथियों की मदद करने और नौकरियों को प्रमोट करने के कई सामाजिक पहलुओं में भाग लिया है, जो उनके समर्पण और उनकी समाजसेवा के प्रति प्रतिबद्धता की प्रतिबिंबित करते हैं। उनका 10 वर्षों का अनुभव फ़िल्म उद्योग के विभिन्न पहलुओं की समझ और संवादनाओं की सामर्थ्य का प्रमाण है और यह उन्हें विभिन्न प्रमुख पत्रिकाओं, डिजिटल प्लेटफ़ॉर्मों और ब्लॉगों के लिए फ़िल्म समीक्षाएँ, समाचार लेख और विशेष रिपोर्ट्स लिखने में मदद करता है।उन्होंने अपने कैरियर के दौरान कई प्रमुख फ़िल्म प्रोजेक्ट्स के साथ काम किया है और उन्होंने उन्हें सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँचाया है। उनकी अद्वितीय अनुभवशीलता फ़िल्म उद्योग के विभिन्न पहलुओं की समझ और संवादनाओं की सामर्थ्य का प्रमाण है।संजय भूषण पटियाला का यह पूरा उत्कृष्टता और प्रतिबद्धता से भरपूर सफर उनके प्रोफेशनल और सामाजिक पहलुओं के संयमित संगम की वजह से है, जो उन्हें एक सशक्त और सक्रिय फ़िल्म पत्रकार के रूप में उच्च पहुंचा दिया है

Enable Notifications OK No thanks