उदयपुर, 08 नवंबर 2023: राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के अंतिम दिन मावली सीट पर भाजपा को बड़ा झटका लगा है। भाजपा के मजबूत दावेदार रहे कुलदीप सिंह चुण्डावत ने पार्टी से किनारा कर लिया और हनुमान बेनीवाल की पार्टी आरएलपी ज्वाइन कर ली। कुलदीप ने आरएलपी ज्वाइन करने के बाद ही नामांकन दाखिल किया।

कुलदीप सिंह चुण्डावत मावली सीट से दो बार विधायक रह चुके हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था, लेकिन कांग्रेस के धर्मनारायण जोशी से हार गए थे। इस बार भी कुलदीप भाजपा से टिकट की आस लगाए बैठे थे, लेकिन भाजपा ने उन्हें टिकट नहीं दिया। भाजपा ने धर्मनारायण जोशी की जगह ब्राह्मण कार्ड खेलते हुए केजी पालीवाल को चुनावी मैदान में उतार दिया।

कुलदीप सिंह चुण्डावत के आरएलपी ज्वाइन करने से मावली सीट पर चुनावी मुकाबला अब सख्त हो गया है। कुलदीप सिंह चुण्डावत के समर्थक काफी संख्या में हैं और उनके चुनाव मैदान में उतरने से भाजपा के लिए चुनौती बढ़ गई है।

आरएलपी और भाजपा के अलावा मावली सीट पर कांग्रेस, बसपा और निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में मावली सीट पर दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल सकता है।

कुलदीप सिंह चुण्डावत ने कहा

कुलदीप सिंह चुण्डावत ने आरएलपी ज्वाइन करने के बाद कहा कि उन्होंने भाजपा से किनारा कर लिया है क्योंकि उन्हें टिकट नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि वह आरएलपी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे और मावली की जनता को बेहतर से बेहतर प्रतिनिधित्व देंगे।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks