राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपनी दूसरी लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट में 43 उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है। इसमें 5 निर्दलीय विधायकों को भी शामिल किया गया है। 43 में 36 विधायकों को रिपीट किया गया है। लेकिन, दूसरी लिस्ट में भी कई मंत्रियों के नाम गायब हैं।

कांग्रेस पार्टी के उम्मदवारों की दूसरी सूची में गहलोत के मंत्री शांति धारीवाल, महेश जोशी और उनके करीबी नेता धर्मेंद्र राठौड़ को टिकट नहीं दिया गया है।

मुख्य बिंदु:

  • कांग्रेस ने राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए अपनी दूसरी लिस्ट जारी कर दी है।
  • इस लिस्ट में 43 उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है।
  • इनमें 5 निर्दलीय विधायकों को भी टिकट दिया गया है।
  • दूसरी लिस्ट में भी कई मंत्रियों के नाम गायब हैं।
  • शांति धारीवाल, महेश जोशी और धर्मेंद्र राठौड़ को टिकट नहीं दिया गया है।
  • शांति धारीवाल के बेटे अमित धारीवाल को टिकट मिल सकता है।
  • पुष्कर से नसीम अख्तर इंसाफ को टिकट दिया गया है।
  • महेश जोशी का नाम आने वाली लिस्ट में शामिल हो सकता है।

राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपनी दूसरी लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट में 43 उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है। इनमें 5 निर्दलीय विधायकों को भी टिकट दिया गया है। इसके अलावा 43 में 36 विधायकों को रिपीट किया गया। लेकिन, दूसरी लिस्ट में भी कई मंत्रियों के नाम गायब हैं।

शांति धारीवाल, महेश जोशी और धर्मेंद्र राठौड़ को टिकट नहीं दिया गया है। शांति धारीवाल को गहलोत कैबिनेट में सीएम के बाद नंबर 2 मंत्री माना जाता है। जानकारों की माने तो आने वाली लिस्ट में और कई मंत्रियों का नाम शामिल हो सकता है। हालांकि, कांग्रेस ने अभी तक शांति धारीवाल की सीट पर किसी उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की है। कहा जा रहा है कि कांग्रेस इस पर उम्मीदवार बदल सकती है। धारीवाल खुद अपने बेटे अमित धारीवाल को प्रमोट करना चाहते हैं। ऐसे में संभव है कि धारीवाल की जगह उनके बेटे चुनाव में उतारे जाए।

पुष्कर सीट से नसीम अख्तर इंसाफ को टिकट दिया गया है। सीएम अशोक गहलोत के खास और पुष्कर सीट से दावेदारी कर रहे धर्मेंद्र राठौड़ को पहले को टिकट नहीं दिया गया है। इस स्थिति में अगर अब भी धर्मेंद्र राठौड़ अजमेर जिले की ही किसी सीट से चुनाव लड़ना चाहते है तो उनके पास एक ही सीट अजमेर उत्तर बची है। हालांकि पार्टी उनके टिकट पर क्या फैसला लेगी यह देखने वाली बात होगी।

महेश जोशी को भी अभी टिकट नहीं दिया गया है। हांलाकि अभी जानकारों का कहना है कि महेश जोशी का नाम बाकि सूची में जारी किया जा सकता है। बता दें कि महेश जोशी की गिनती सीएम गहलोत के करीबीयों में होती है। ऐसे में अब संभावना जाहिर की जा रही है। कि जोशी का नाम आने वाली लिस्ट में शामिल हो सकता है।

कांग्रेस की दूसरी लिस्ट में जिन मंत्रियों को टिकट दिया गया है, उनमें गोविंद राम मेघवाल, बुलाकी दास कल्ला, बृजेंद्र ओला, राजेंद्र सिंह यादव, प्रताप सिंह खाचरियावास, शकुंतला रावत, विश्वेंद्र सिंह, भजन लाल जाटव, मुरारी लाल मीणा, परसादी लाल मीणा, सुखराम बिश्नोई, अर्जुन बामनिया, उदय लाल आंजना, रामलाल जाट और प्रमोद जैन भाया शामिल हैं।

कांग्रेस की दूसरी लिस्ट में कई मंत्रियों को टिकट नहीं देने से पार्टी में असंतोष का माहौल है। शांति धारीवाल और महेश जोशी जैसे बड़े नेताओं को टिकट नहीं देने से पार्टी के अंदरूनी कलह और बढ़ सकती है। वहीं, धर्मेंद्र राठौड़ को टिकट नहीं देने से अजमेर जिले में कांग्रेस को नुकसान हो सकता है।

कांग्रेस को अपनी तीसरी लिस्ट में इन नेताओं को टिकट देकर पार्टी में असंतोष को दूर करने की कोशिश करनी होगी।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks