जयपुर : प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आज राजस्थान में हुए पेपर लीक मामले में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के घर छापेमारी की। ईडी की टीम सुबह करीब 10 बजे डोटासरा के आवास पर पहुंची और करीब 3 घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान डोटासरा सहित उनके परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ की गई।

ईडी की टीम ने डोटासरा के आवास से कई दस्तावेज और डिजिटल डेटा जब्त किया है। बताया जा रहा है कि यह छापेमारी राजस्थान में जल जीवन मिशन घोटाले से जुड़े मामले में की गई है।

डोटासरा ने ईडी की कार्रवाई को राजनीतिक प्रतिशोध बताया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार राजस्थान में कांग्रेस सरकार को बदनाम करने के लिए इस तरह की कार्रवाई कर रही है।

ईडी की टीम ने डोटासरा के अलावा उनके बेटे और बेटी के आवास पर भी छापेमारी की है। डोटासरा की बेटी की शादी एक ठेकेदार के बेटे से हुई है, जो जल जीवन मिशन में शामिल है।

ईडी की इस कार्रवाई से राजस्थान में सियासी घमासान मच गया है। कांग्रेस ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि वह चुनाव में जीतने के लिए राजस्थान में सत्तारूढ़ पार्टी को परेशान कर रही है।

निर्दलीय विधायक के घर भी छापेमारी

ईडी ने निर्दलीय विधायक और महुवा से कांग्रेस उम्मीदवार ओम प्रकाश हुडला के सात ठिकानों पर भी छापेमारी की है। हुडला पर भी पेपर लीक मामले में आरोप लगे हैं।

ईडी की कार्रवाई को लेकर क्या कहते हैं डोटासरा?

डोटासरा ने ईडी की कार्रवाई को राजनीतिक प्रतिशोध बताया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार राजस्थान में कांग्रेस सरकार को बदनाम करने के लिए इस तरह की कार्रवाई कर रही है।

डोटासरा ने कहा कि वह ईडी की जांच का सहयोग करेंगे, लेकिन उन्हें इस बात पर आश्चर्य है कि ईडी ने उनके घर पर छापेमारी क्यों की।


ईडी की कार्रवाई से राजस्थान में सियासी घमासान

ईडी की इस कार्रवाई से राजस्थान में सियासी घमासान मच गया है। कांग्रेस ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि वह चुनाव में जीतने के लिए राजस्थान में सत्तारूढ़ पार्टी को परेशान कर रही है।

कांग्रेस ने कहा कि ईडी की कार्रवाई एक राजनीतिक साजिश है। पार्टी ने कहा कि वह इस मामले को लेकर सड़कों पर उतरेगी।

भाजपा ने कांग्रेस के आरोपों को खारिज किया है। भाजपा ने कहा कि ईडी की कार्रवाई कानून के अनुसार की गई है।

क्या है पेपर लीक मामला?

राजस्थान में पिछले साल 2022 में यूपीएससी और आरएएस की परीक्षाओं में पेपर लीक का मामला सामने आया था। इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया था, जिनमें कुछ सरकारी अधिकारी और ठेकेदार भी शामिल थे।

ईडी ने इस मामले की जांच शुरू की थी और कई लोगों से पूछताछ की थी। बताया जा रहा है कि ईडी की जांच में पता चला है कि डोटासरा के परिवार के सदस्य भी पेपर लीक में शामिल थे। इसी आधार पर ईडी ने डोटासरा के घर पर छापेमारी की है।

केंद्रीय सुरक्षा बल भी मौजूद

ईडी की टीम डोटासरा सहित उनके रिश्तेदारों के घर भी पहुंची है। पेपर लीक को लेकर आज ईडी ने पहली बार डोटासरा के घर पर छापेमारी की हैं। दिल्ली और जयपुर की ईडी की टीम के साथ में केंद्रीय सुरक्षा बल के अधिकारी भी मौजूद हैं।

चुनाव से पहले सियासी घमासान

राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में ईडी की इस कार्रवाई से सियासी घमासान मच गया है। कांग्रेस ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि वह चुनाव में जीतने के लिए राजस्थान में सत्तारूढ़ पार्टी को परेशान कर रही है।

भाजपा ने कांग्रेस के आरोपों को खारिज किया है। भाजपा ने कहा कि ईडी की कार्रवाई कानून के अनुसार की गई है।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks