उदयपुर में फायरिंग, श्री राजपूत करणी सेना के प्रदेशाध्यक्ष भंवर सिंह को गोली मारी, गंभीर रूप से हुए घायलउदयपुर में फायरिंग, श्री राजपूत करणी सेना के प्रदेशाध्यक्ष भंवर सिंह को गोली मारी, गंभीर रूप से हुए घायल

Udaipur : राजस्थान के उदयपुर में राजपूत करणी सेना के प्रदेशाध्यक्ष भंवर सिंह को गोली मार दी गई है. बताया जा रहा है कि उनकी हालत नाजुक है. उदयपुर पुलिस ने राजपूत करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष पर कथिततौर पर गोली चलाने वाले आरोपी दिग्विजय को गिरफ्तार कर लिया है. भंवर सिंह को पुलिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है. साथ ही आरोपी को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बताया जा रहा है कि आरोपी दिग्विजय बठेड़ा के गोली मारने के पीछे पुरानी दुश्मनी बताई जा रही है. यह गोली उस समय मारी गई है जब उदयपुर के बीएन संस्थान परिसर में राजपूत करणी सेना की बैठक चल रही थी. इस बैठक में राजपूत करणी सेना के प्रदेशाध्यक्ष भंवर सिंह भी शामिल थे. इसी बीच मौका देखकर आरोपी ने भंवर सिंह पर गोली चला दी. बैठक में मौजूद कार्यकर्ता और नेताओं को जब इसका भान हुआ तो आरोपी दिग्विजय का तत्काल पकड़ लिया गया और मौके पर उसकी जमकर पिटाई की.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, यूनिवर्सिटी में संगठन के कार्यक्रम के बाद ‘करणी सेना’ के प्रदेशाध्यक्ष सलाडिया नाश्ता करने जा रहे थे। इसी दौरान दिग्विजय सिंह नाम का एक व्यक्ति उनके पास आया। वह बात करने के बहाने साइड में ले गया और भंवर सिंह को गोली मार दी। गोली की आवाज से अफरा-तफरी मच गई। लोगों ने आरोपी को मौके पर ही पकड़कर पहले पीटा और फिर ​​​​पुलिस के हवाले कर दिया।

कार्यक्रम में मौजूद था आरोपी, खत्म होने का इंतजार कर रहा था

यूनिवर्सिटी में विभिन्न मांगों को लेकर हुए कार्यक्रम में आरोपी दिग्विजय सिंह भी मौजूद था। बताया जा रहा है कि दिग्विजय राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना का पूर्व जिलाध्यक्ष रहा है। आरोपी को करीब 4 महीने पहले ही जिलाध्यक्ष पद से हटाया गया था। इसके बाद से ही वह नाराज चल रहा था। दिग्विजय सिंह और भंवर सिंह के बीच आपसी मतभेद भी बताए जा रहे हैं। उसने प्रदेश पदाधिकारियों के सामने कभी खुलकर नाराजगी व्यक्त नहीं की, लेकिन आज यूनिवर्सिटी में मौका पाकर प्रदेशाध्यक्ष पर फायरिंग कर दी। वर्तमान में आरोपी ‘आम आदमी पार्टी’ (AAP) से जुड़ा हुआ था।

हम मामले की जांच कर रहे हैं: एसपी

उदयपुर एसपी भुवन भूषण यादव ने बताया कि आरोपी खेरोदा निवासी दिग्विजय को आपसी विवाद के चलते जिलाध्यक्ष पद से हटा दिया था। इनके बीच पद से हटाने का विवाद है या फिर कोई और विवाद रहा है। उसको लेकर मामले की जांच कर रहे हैं।
घायल प्रदेशाध्यक्ष का हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है, उनकी हालत खतरे से बाहर है। फिलहाल, आरोपी के साथ और कौन था, उस बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। एसपी ने बताया कि फायरिंग के बाद वहां मौजूद लोगों ने आरोपी दिग्विजय को बुरी तरह पीटा, जिससे उसके सिर में चोट आई। आरोपी को पुलिस हॉस्पिटल ले गई।

23 सितंबर को होगी जनसभा

आगामी 23 सितंबर को गांधी ग्राउंड में करणी सेना एवं समस्त राजपूत संगठन मेवाड़ की ओर से आयोजित होने वाली न्यायाधिकार महासभा के संदर्भ में पोस्टर विमोचन रविवार को था. इस आयोजन के बाद फायरिंग कर दी गई.

पुलिस कर रही है मामले की जांच

उदयपुर पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस का कहना है कि आरोपी दिग्विजय बठेड़ा से पूछताछ की जा रही है. पुलिस को उम्मीद है कि जल्द ही इस मामले का खुलासा हो जाएगा.

राजपूत करणी सेना ने जताया विरोध

राजपूत करणी सेना ने घटना का विरोध किया है. पार्टी ने कहा है कि इस घटना से राजपूत समाज में आक्रोश है. पार्टी ने सरकार से मांग की है कि आरोपी को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए और उसे सख्त सजा दी जाए.

राजस्थान में बढ़ रहा है हिंसा का ग्राफ

राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से हिंसा का ग्राफ बढ़ रहा है. बीते दिनों राजधानी जयपुर में भी एक युवक की हत्या कर दी गई थी. इस घटना के बाद शहर में तनाव का माहौल था. पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की थी.

राजस्थान सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने चाहिए.

By manmohan singh

News editor and Journalist

Enable Notifications OK No thanks