मुंबई: रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड की निदेशक और ‘एजियो’ की मालकिन ईशा अंबानी ने हाल ही में ‘वोग’ को दिए एक इंटरव्यू में एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि उनके जुड़वां बच्चे, आद्या और कृष्णा, आईवीएफ तकनीक की मदद से पैदा हुए हैं।

यह खुलासा इसलिए भी खास है क्योंकि ईशा अंबानी की मां, नीता अंबानी ने भी इसी तकनीक का इस्तेमाल कर ईशा और उनके भाई आकाश को जन्म दिया था।

ईशा अंबानी ने इंटरव्यू में कहा, “मैं यह बात इसलिए खुलकर बता रही हूं क्योंकि इससे आईवीएफ को सामान्य बनाने में मदद मिलेगी। लोगों को यह समझना होगा कि यह कोई शर्मनाक बात नहीं है। कई महिलाएं इस तकनीक का इस्तेमाल करके मां बनने का सपना पूरा कर रही हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “आईवीएफ एक कठिन प्रक्रिया हो सकती है, इसमें शारीरिक रूप से थकान होती है। लेकिन जब आप इसके परिणामस्वरूप अपने बच्चों को गोद में लेते हैं, तो हर मुश्किल आसान हो जाती है।”

ईशा अंबानी ने कुछ लोगों की गलत धारणाओं को भी दूर किया। उन्होंने कहा, “कुछ लोग आईवीएफ से पैदा हुए बच्चों को अलग नज़रिए से देखते हैं। यह गलत है। आईवीएफ भी एक प्रजनन तकनीक है, जिसकी मदद से महिलाएं मां बन सकती हैं। यदि कोई तकनीक बच्चों को दुनिया में लाने में मदद कर सकती है, तो हमें इसे अपनाने में हिचकिचाना नहीं चाहिए।”

गौरतलब है कि ईशा अंबानी ने 12 दिसंबर 2018 को आनंद पीरामल से शादी की थी। उनके जुड़वां बच्चे – बेटी आद्या और बेटा कृष्णा – 19 नवंबर 2022 को पैदा हुए थे।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor