भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में अपने अभिनय कौशल के लिए प्रसिद्ध हुए अभिनेता पंकज केसरी अब साउथ फिल्म इंडस्ट्री में भी अपनी पहचान बना चुके हैं। पंकज केसरी को उनके हौंसले और प्रतिभा के लिए सराहा जा रहा है। उनकी बेहतरीन अभिनय कौशल के कारण वह पूरी फिल्म इंडस्ट्री में डिमांडिंग अभिनेता के तौर पर मान्यता प्राप्त कर रहे हैं।

पंकज केशरी ने अपने अभिनय के शुरुआती दौर में पटना, बिहार में थिएटर कार्यक्रमों में हिस्सा लिया था और कई बेहतरीन प्लेस भी किए थे। इसके बाद उन्होंने अपनी पढ़ाई के लिए मुंबई जैसे महानगर में जाकर अपने अभिनय का नवीनीकरण किया। मुंबई में पढ़ाई के साथ-साथ पंकज ने प्रसिद्ध पृथ्वी थिएटर में अपनी कला का प्रदर्शन किया और कई शानदार शो प्रस्तुत किए। इस दौरान पंकज को कई जानी-मानी बॉलीवुड हस्तियों से मिलने का और साथ ही साथ काम करने का मौका मिला। इससे पंकज की फिल्मी करियर रफ्तार पकड़ ली।

पंकज केसरी
पंकज केसरी

भोजपुरी स्टार पंकज केसरी का दक्षिण भारतीय सिनेमा में धमाकेदार एंट्री

पंकज केसरी ने अपने करियर की शुरुआत में एक संगीत चैनल के मुख्य टीवी एंकर की भूमिका में काम किया था। इसके बाद उन्होंने भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में लगभग 45 फिल्मों में अभिनय किया है। उन्होंने फिल्मों में मुख्य अभिनेता के रूप में काम किया है जैसे ‘फिल्म विधाता’, ‘रंग दे बसंती’, ‘परिवार’, ‘बकलोल दूल्हा’, ‘बाह खिलाड़ी बाह’, ‘सहर वाली जान मारेली’, ‘तेजाब’, ‘त्रिनेत्र’, ‘कभी आवे ना जुदाई’, ‘मोरा बलमा छैल छबीला’, ‘गोला बारूद’, ‘जोरू का गुलाम’, ‘सांवरिया तोहसे लगी कैसी लगन’ आदि।

पंकज केसरी
पंकज केसरी

पंकज केसरी: भोजपुरी से दक्षिण भारतीय सिनेमा तक का सफर

भोजपुरी फिल्मों में अपने अभिनय के जलवे से मशहूर होने के बावजूद, पंकज केसरी ने दक्षिण भारतीय सिनेमा में भी अपनी पहचान बनाई है। उन्होंने तमिल और तेलुगु भाषा की कई फिल्मों में मुख्य अभिनेता के रूप में काम किया है। इनमें ‘कालीचरण’, ‘मोसगल्लाकु’, ‘मोसागाड़ू’, ‘बम भोलेनाथ’, ‘शिवम’, ‘व्हेयर इज विद्याबालन’, ‘अराकू रोड लॉ’, ‘व्हेयर इज द वेंकेट लक्ष्मी’, ‘रणरंगम’, ‘सिटी मार’, ‘गनला गोंडा गणेश’, ‘ड्राइवर’, ‘रामदु’, ‘पोर कुदराई’ आदि फिल्में शामिल हैं। पंकज के अभिनय से इन फिल्मों ने लोगों का मन मोहा है।

इसके अलावा, पंकज केसरी की कई और बड़ी बजट वाली फिल्में उनके प्रोजेक्ट्स में शामिल हैं, कुछ की शूटिंग चल रही है और कुछ की पोस्ट प्रोडक्शन चरण में हैं। यह साबित करता है कि पंकज केसरी की कलाकारी फिल्म इंडस्ट्री में बहुत प्रशंसा प्राप्त कर रही है और वह अपनी करियर को नई ऊंचाइयों तक ले जाने के लिए तत्पर है

By संजय भूषण पटियाला

फ़िल्म पत्रकारिता और प्रमोशनल रिलेशन्स का क्षेत्र संजय भूषण पटियाला के लिए केवल एक करियर ही नहीं है, बल्कि यह एक पूरे जीवन का तरीका है जिसमें वह अपने दृढ विश्वासों और कर्मठता के साथ आगे बढ़ते हैं। वे केवल एक पत्रकार नहीं हैं, बल्कि एक सामाजिक सक्रिय व्यक्ति भी हैं जो समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का पूर्णता से निर्वाह करते हैं।संजय ने फ़िल्म उद्योग के साथियों की मदद करने और नौकरियों को प्रमोट करने के कई सामाजिक पहलुओं में भाग लिया है, जो उनके समर्पण और उनकी समाजसेवा के प्रति प्रतिबद्धता की प्रतिबिंबित करते हैं। उनका 10 वर्षों का अनुभव फ़िल्म उद्योग के विभिन्न पहलुओं की समझ और संवादनाओं की सामर्थ्य का प्रमाण है और यह उन्हें विभिन्न प्रमुख पत्रिकाओं, डिजिटल प्लेटफ़ॉर्मों और ब्लॉगों के लिए फ़िल्म समीक्षाएँ, समाचार लेख और विशेष रिपोर्ट्स लिखने में मदद करता है।उन्होंने अपने कैरियर के दौरान कई प्रमुख फ़िल्म प्रोजेक्ट्स के साथ काम किया है और उन्होंने उन्हें सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँचाया है। उनकी अद्वितीय अनुभवशीलता फ़िल्म उद्योग के विभिन्न पहलुओं की समझ और संवादनाओं की सामर्थ्य का प्रमाण है।संजय भूषण पटियाला का यह पूरा उत्कृष्टता और प्रतिबद्धता से भरपूर सफर उनके प्रोफेशनल और सामाजिक पहलुओं के संयमित संगम की वजह से है, जो उन्हें एक सशक्त और सक्रिय फ़िल्म पत्रकार के रूप में उच्च पहुंचा दिया है

Enable Notifications OK No thanks