खेसारीलाल यादव- जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचेखेसारीलाल यादव- जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

Khesari Lal Yadav (खेसारीलाल यादव): भोजपुरी भाषा, फिल्म और गानों के विकास के लिए शुरू हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का कारवां आज जमशेदपुर (झारखंड) पहुंचा, जहां भोजपुरी अभिनेता और ट्रेंडिंग मशीन के नाम से मशहूर खेसारीलाल यादव ने दर्शकों को अपने गानों पर झूमने को मजबूर कर दिया।

खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे
खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

खेसारीलाल यादव: रिलीज हुआ गाना “मुरब्बा” का भी प्रमोशन किया

सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट में Khesari Lal Yadav (खेसारी लाल यादव) भी झूमकर नाचे और वहाँ मौजूद अपने फैंस को भी खूब नचाया। इससे पहले यहाँ उन्होंने अपना आज रिलीज हुआ गाना “मुरब्बा” का भी प्रमोशन किया और कहा कि दर्शकों के प्यार और आशीर्वाद ने हमें आज इस मुकाम तक पहुंचाया है। उम्मीद है हमारे नए गाने को भी खूब सफल बनाएंगे।

खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे
खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

मौके पर Khesari Lal Yadav (खेसारी लाल यादव) ने सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट की भी सराहना की और झारखंड के शहर जमशेदपुर को लेकर कहा कि जमशेदपुर जितना खूबसूरत जगह है, उतने ही प्यारे लोग हैं यहाँ। अगर देखा जाए तो फिल्मों के शूटिंग के लिहाज से यह जगह परफेक्ट है और यहाँ के प्राकृतिक छटा इस जगह को फिल्म सिटी जैसा एहसास कराता है। यहाँ जल, जंगल, जमीन, नाले, सड़क, खूबसूरत आसमान, वर्ल्ड क्लास सुविधाएं जैसी हर वो चीज है, जो फिल्म सिटी में होनी चाहिए।

खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे
खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

बस जरूरत है कि यहाँ सरकार से फिल्म मेकिंग के लिए थोड़ी मदद मिल जाए, फिर इस शहर से भी अच्छी फिल्में बनकर निकलेंगी और दुनिया में इस लोकेशन को देखा जाएगा। इसके साथ ही यह स्थानीय कलाकारों और तकनीशियनों के साथ अन्य लोगों के लिए रोजगार का भी सृजन करेगा। यहाँ की आवो हवा हम फ़िल्मकारों को खूब लुभाती है।

खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे
खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

भोजपुरी की उन्नति के लिए हर शहर में होगा सारेगामा खेसारी नाईट का आयोजन : बद्रीनाथ झा

वहीं, मशहूर म्यूजिक कंपनी सारेगामा हम भोजपुरी के बिजनेस हेड ने बताया कि सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट की परिकल्पना भोजपुरी भाषा, भोजपुरी फिल्में और भोजपुरी गानों के विकास से जुड़ी हुई है।

खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे
खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

इस नाईट का जमशेदपुर में आयोजन के पीछे हमारा मुख्य उद्देश्य भोजपुरी भाषा, गानों और फिल्मों को आगे बढ़ना व पूरे देश में फिल्मो के प्रति जागरूकता लाने का है। बस थोड़ी मदद यहाँ सरकार से चाहिए। इसका आयोजन हर शहर में होगा।

खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे
खेसारीलाल यादव: जमशेदपुर में हुआ सारेगामा हम भोजपुरी खेसारी नाईट का भव्य आयोजन, झूम कर नाचे

उन्होंने कहा कि आपने देखा होगा कि पबों में, डिस्को में, हिंदी और पंजाबी के साथ दूसरे गाने बजते हैं और लोग उस पर थिरकते नजर आते हैं। जबकि हमारी भोजपुरी आज दुनिया भर में सबसे अधिक सुनी जाती है। लेकिन फिर भी हम पीछे हैं, क्योंकि हम अपनी भाषा को सही जगहों पर प्रमोट नहीं कर पा रहे हैं। इसलिए हमने इसकी शुरुआत की है। इस आयोजन में नम्रता मल्ला ने भी जमकर अपना जलवा बिखेरा।

By रंजन सिन्हा

रंजन सिन्हा : भोजपुरी फिल्म पत्रकार और जनसंपर्क अधिकारी (पीआरओ) हैं, जिनके पास मनोरंजन उद्योग में व्यापक अनुभव है। उन्हें भोजपुरी फिल्म उद्योग की गहरी समझ है और वे अपनी अंतर्दृष्टिपूर्ण रिपोर्टिंग और भोजपुरी फिल्मों की निष्पक्ष समीक्षा के लिए जाने जाते हैं। रंजन सिन्हा ने एक प्रमुख समाचार पत्र के लिए एक रिपोर्टर के रूप में पत्रकारिता में अपना करियर शुरू किया और जल्द ही भोजपुरी फिल्म उद्योग को कवर करने के लिए चले गए। उसके बाद से उन्होंने खुद को क्षेत्र के सबसे भरोसेमंद और सम्मानित पत्रकारों में से एक के रूप में स्थापित किया है, उनके काम को प्रमुख मीडिया आउटलेट्स में नियमित रूप से प्रदर्शित किया जाता है। पीआरओ के रूप में, रंजन सिन्हा ने भोजपुरी फिल्म उद्योग में कुछ सबसे बड़े नामों के साथ काम किया है, जिससे उन्हें अपनी फिल्मों को बढ़ावा देने और व्यापक दर्शकों तक पहुंचने में मदद मिली है। मार्केटिंग और प्रमोशन पर उनकी पैनी नजर है और ये अपनी इनोवेटिव और इफेक्टिव स्ट्रैटेजी के लिए जाने जाते हैं।