राजस्थान पुलिस करधनी थाना को बताया जिम्मेदार – राजस्थान में एक यू ट्यूबर ने मौत का ऐसा खेल खेला कि खुद की जान से हाथ धो बैठा। उसे अपने परिवार से परेशानी थी, परिवार ने उसे अपनी सम्पत्ति से बेदखल कर दिया था। उसने थाने जाकर शिकायत की लेकिन थाना पुलिस ने कानून का हवाला देते हुए काम नहीं किया। उसने थाने के पास ही पेट्रोल डालकर आग लगा ली। उसके बाद बचाओ बचाओ चीखता रह गया।

चौबीस घंटे अस्पताल में भर्ती रहने के बाद शुक्रवार रात उसकी मौत हो गई। उसका नाम विकास शर्मा था। वह जयपुर के करधनी थाना इलाके का रहने वाला था।

पुलिस ने बताया कि विकास के पिता हरीराम शर्मा और परिवार के अन्य लोगों ने विकास को अपनी सम्पत्ति से बेदखल कर दिया था। पारीवारिक कारणों के चलते उससे कोई रिश्तेदार न तो व्यवहार रखता था और न ही बातचीत करता था। करधनी पुलिस ने बताया कि परिवार का यह मामला कोर्ट में चल रहा था। दोनो पक्षों के बीच लगातार विवाद था। पुलिस ने पहले ही दोनो पक्षों को पाबंद भी किया था। कोर्ट की गाइड लाइन के अनुसार ही पुलिस काम कर रही थी।

यूट्यूब पर फार्मिंग हिन्दी एडवाइज चलाता था चैनल

लेकिन विकास और ज्यादा कार्रवाई चाहता था। वह गुरुवार रात थाने पहुंचा, पुलिस ने उसे नियम के अनुसार कार्रवाई करने की बात कही तो उसने थाने के दरवाजे पर खुद को आग लगा ली। उसे पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया जहां कल रात उसकी जान चली गई। विकास शर्मा यूट्यूब पर फार्मिंग हिन्दी एडवाइज के नाम से चैनल चलाता था।

मृतक किसान विकास शर्मा (40) का Farming Tips Hindi नाम से यूट्यूब चैनल था। वह हरदतपुरा इलाके का रहने वाला था। उसने पुलिस को बताया कि आपसी मतभेद के बाद उसके परिवार वालों ने उसे घर से निकाल दिया। विकास शर्मा जब गुरुवार की शाम करीब 6 बजे झोटवाड़ा एसीपी के पास संपत्ति के संबंध में कोर्ट द्वारा जारी स्टे ऑर्डर लेकर पहुंचे तो एसीपी ने उन्हें करधनी एसएचओ से मिलने का निर्देश दिया.

By Sunil Kumar Verma

Sunil Kumar Verma - पत्रकार और समाचार संपादक