नालासोपारा, महाराष्ट्र – विरार में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जिसमें पारिवारिक विवादों के कारण एक महिला ने अपने देवरानी का गर्भपात करवाने के लिए जादू-टोने का सहारा लिया। मामले की जांच मंगलवार को मांडवी पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई है।

घटना का पीछा

विरार के एक गांव में रहने वाली महिला का परिवार पारिवारिक विवादों के बीच जूझ रहा था। उनकी देवरानी के साथ के विवाद के चलते महिला ने एक अद्वितीय कदम उठाया और उसने जादू-टोने का सहारा लिया। दिनों बीत चुके थे और उसके दिमाग में एक बात आई कि उसके पास कोई अद्भुत समाधान हो सकता है।

जादू-टोने का प्लान

महिला ने अपने मोबाइल फोन से एक अघोरी के बैंक खाते में चार हजार रुपए भेज दिए, जिसका उपयोग अघोरी विद्या और जादू-टोने के लिए किया गया। महिला ने उस अघोरी से संपर्क स्थापित किया और उससे वशीकरण कर जादू-टोने करने का आदान-प्रदान किया।

पुलिस की कार्रवाई

महिले के पति की शिकायत पर पुलिस ने मामले की जांच की और मामले में दोनों पक्षों की बातचीत की। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने महाराष्ट्र मानव बलि और अन्य अमानवीय कुरीतियों के तहत मामला दर्ज किया, जिसमें जादू-टोने का भी जिक्र किया गया।

मामले की जांच जारी मांडवी पुलिस ने मामले की जांच करने की प्रक्रिया शुरू की है और सभी संभावित प्रमाणों को मद्देनजर रखते हुए विवाद की सच्चाई की जाँच की जा रही है।

यह घटना फिर से यह सिद्ध करती है कि परिवारिक विवादों का सही समाधान ढूंढने के लिए जादू-टोने जैसे अद्भुत कदमों की ओर लोग दिशा बदल रहे हैं। यह भी साबित करता है कि समाज में शिक्षा और जागरूकता की महत्वपूर्ण आवश्यकता है ताकि लोग अपने समस्याओं का सही और वैध तरीके से समाधान ढूंढ सकें

By ब्रजेश मेहर

बृजेश मेहर एक अनुभवी पत्रकार और P.R.O. हैं जिनका भोजपुरी सिनेमा पर विशेष ध्यान है। मनोरंजन उद्योग में कई वर्षों के करियर के साथ, ब्रजेश ने भोजपुरी फिल्मों की दुनिया में खुद को एक जानकार और सम्मानित आवाज के रूप में स्थापित किया है। एक पत्रकार के रूप में, ब्रजेश ने भोजपुरी सिनेमा से संबंधित विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला को कवर किया है, जिसमें अभिनेताओं और निर्देशकों के साक्षात्कार, बॉक्स ऑफिस के रुझानों का विश्लेषण और नवीनतम रिलीज़ की समीक्षा शामिल है। उन्होंने उद्योग में कई प्रमुख प्रकाशनों में योगदान दिया है और अपनी व्यावहारिक और सूचनात्मक रिपोर्टिंग के लिए एक प्रतिष्ठा बनाई है।