Jaipur: राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के लिए मतदान के दिन पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने जयपुर के सिविल लाइंस विधानसभा क्षेत्र में वोट डाला। पायलट इस चुनाव में टोंक विधानसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं, लेकिन उनका नाम सिविल लाइंस की मतदाता सूची में होने के कारण वे खुद को वोट नहीं दे पाए।

मतदान केंद्र पर पायलट के पहुंचने पर कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया। पायलट ने मतदान केंद्र में सभी आवश्यक औपचारिकताएं पूरी की और अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

मतदान केंद्र पर पायलट की लोकप्रियता साफ देखी जा सकती थी। मतदान केंद्र में मौजूद मतदाताओं और कार्मिकों ने उनसे सेल्फी लेने और तस्वीरें खिंचवाने के लिए अनुरोध किया। पायलट ने सभी के अनुरोधों को पूरा किया।

मतदान के बाद जब पायलट वोटिंग रूम से बाहर निकल रहे थे, तो मतदान केंद्र में ड्यूटी दे रहे कार्मिकों ने उनसे तस्वीर खिंचवाने का आग्रह किया। पायलट भी इस बात को लेकर सहमत हो गए और उन्होंने वोटिंग रूम के अंदर ही कार्मिकों संग तस्वीर खिंचवाई।

वोटिंग रूम में फोटो खिंचवाने का नियम है या नहीं?

वोटिंग रूम में फोटो खिंचवाने का कोई नियम नहीं है। हालांकि, मतदान केंद्र में मौजूद सुरक्षाकर्मी मतदाताओं को वोटिंग रूम में फोन या अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग नहीं करने के लिए कहते हैं। यह सुरक्षा कारणों से किया जाता है।

हालांकि, इस मामले में मतदान केंद्र में मौजूद कार्मिकों ने पायलट के साथ तस्वीर खिंचवाई। इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कार्मिकों ने लिखा कि सचिन पायलट जी से वोटिंग रूम के अंदर ही तस्वीर खिंचवाने का मौका मिला। यह मेरे लिए एक यादगार पल है।

यह घटना सचिन पायलट की लोकप्रियता को दर्शाती है।

सचिन पायलट राजस्थान के एक लोकप्रिय नेता हैं। वे कांग्रेस के युवा नेता हैं और उनके पास एक मजबूत जन आधार है। इस घटना से पता चलता है कि पायलट की लोकप्रियता मतदान केंद्र के कार्मिकों तक भी पहुंच गई है।

यह घटना यह भी दर्शाती है कि मतदान केंद्र में भी लोग अपने पसंदीदा नेताओं से मिलने और उनसे तस्वीरें खिंचवाने के लिए उत्सुक रहते हैं।

हालांकि, इस घटना को लेकर कुछ लोगों ने आपत्ति भी जताई है।

उनका कहना है कि वोटिंग रूम एक गंभीर जगह है और वहां फोटो खिंचवाना अनुचित है। इससे मतदान की गोपनीयता भंग हो सकती है।

इन आपत्तियों के बावजूद, यह स्पष्ट है कि सचिन पायलट की लोकप्रियता का कोई मुकाबला नहीं है।

By khabarhardin

Journalist & Chief News Editor

Enable Notifications OK No thanks